गोबर गैस का निर्माण की प्रक्रिया का वर्णन | biogas

 गोबर गैस

👉भारत देश में जो आबादी है उसकी 65% आबादी गांवों में निवास करती है और हमारे भारत देश में प्रचुर मात्रा में पशुधन है गाय-भसों  वह संपूर्ण पशुओं से से प्राप्त गोबर को उपयोग गोल गोल खड्डे बनाकर उसके अंदर डाल देने से उसका जैविक खाद बनाने व गोबर गैस उत्पादन के लिए किया जाता है गोबर गैस के खड्डे को ऊंचे वाले भाग में बनाना चाहिए हमारे भारत देश में गोबर गैस या  बायोगैस का निर्माण करने केेे लिए सामान्य गोबर का इस्तेमााल किया जााता है हमारेेेे भारत के कई गांवों में आज भी गोबर गैस उपयोग ऊर्जा प्राप्ति के लिए किया जाताा है।  

गोबर गैस प्लांट

👉 Gobar Gas plant बनाने के लिए हमारे घरों केेेे आस पास ऊंचाई वाली जगह पर 1 या फिर 2 मीटर का गड्ढा खोदकर वह उसको चारों तरफ से ढक देना चाहिए आजकल गोबर गैस बनाने के लिए बड़े-बड़े एक्सपर्ट भीी है जिनकेेेेेेेे पास भी काम करवा सकते   आजकल बड़े बड़े गौशाला ऊर्जा उत्पादन के लिए बड़ेे-बड गोबर गैस प्लांट लगाए गए हैं

गोबर गैस के लाभ

👉 गोबर गैस प्लांट में कम खर्चे में अधिििििक लाभ मिलत है गोबर गैस प्लांट में न तो पर्यावरण को कुछ नुकसान होता है और गोबर गैस केेे कच्चेेे माल को जैव उर्वरक के रूप में काम मेंंं लिया जा सकता हे और साााथ हीी 

घरों में आग लगाने के लिए लकड़ी की जगह बायोगैस काम में आती है बेयोगेस कम खर्चे में अधिक लाभ देता है


बायोगैस कैसे काम करता है

👉 सबसे पहले गोबर मेंंं विकल्प। जीवाणु जटिल कार्बनिक पदार्थथ होते है 

जैसे— सेलुलोस , हेमी सेलुलोस आदि को जीवाणु सरल पदार्थों में अपगतिक ेकरते हैं

👉 उसके बाद जीवाणु आंशिक वायवीय व आंशिक अवयवीय किण्वन प्रकिया द्वारा कच्चे व सरल पदार्थों को कार्बनिक अम्ल को ऐसिटिक अम्ल में बदल देते है यानी की परिवर्तीति देते हे

👉 इसके बाद मिथेनोबेक्टरीया द्वारा ऐसीटिक अम्ल को मिथेन  मैं ओक्सिक्रत  

 कर देता है और बचे पदार्थ स्लेरी को सुखाकर उसका उपयोग खााद खाद के रूप में किया जाता हे 

गोबर गैस संयंत्र

👉 बयोगेस की क्षमता कम होती हैं और प्ररकृतिक गैस की क्षमता अधिक होती हैं  बयोगेस में कार्बन की मात्रा 31%  carbon dioxide होती हैं carbon dioxide  की मात्रा  कम हो  तो oski ऊष्मा  का मान बड़ जााता है 


सबसे पहले गोबर गैस कहा लगाया गया 

👉  भारत 

के Uttar Pradesh के इटावा जिले लगाया गया सन 1961 में गोबर गैस अनुस्धान स्टेशन की स्थापन की गई




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ