Ads

एंजाइम क्या है | एंजाइम की क्रियाविधी | एंजाइम की परिभाषा | what is anzaim

एन्जाइम

एन्जाइम: प्रोटीन प्रकृति के ऐसे कार्बनिक पदार्थ जो परिवर्तित जिवीत कोशिकाओं में जैव उत्प्रेरक का कार्य करते है,एन्जाइम कहलाते है। एन्जाइम रसायनिक अभिक्रियाओं कि दर को अधिकारको कि सकिय ऊर्जा कम करके बड़ा देते है। इसमें

उपापचय उपचय + अपचयन

उपचय :- कोशिकौओ की कुछा अभिक्रिया संश्लेषण प्रकारो की है, जिनमें ऊर्जा की  महत्वपूर्ण आवश्यता होती है। 

अपचयन :- कोशिकाओं में कुछ अभि. विघटन प्रकार की होती है, जिनमें ऊर्जा मुक्त होती है। 

. एन्जाइम की खोज:- एडवर्ड बुकनर
 सर्वप्रथम प्रयोगशाला में संश्लेषण :- ' यूरियेज' जे.बी. सुमनर

जाइम की संरचना : सभि एन्जाइम प्रोटीन के बने होते है।

सम्पूर्ण एन्जाइम को होलोएन्जाइम कहते है। 
होलो एन्जाइम = एपोएन्जाइम + सहकारक (अप्रोटीन भाग)
                     (प्रोटीन भाग)

 सहकारक तीन प्रकार
1 .प्रोस्थेटिक समुह.> उढता के साथ जुड़े रहते हैं, जैसे-साइटोक्रोम, फ्लेवोप्रोटीन

2.सहएन्जाइम (NAPD, 01).> ढीले या आसानी से अलग हो सकते है तथा पुनः पुड सकते है - NAD, furor furor (NAPD, 01)

3.सक्रियक.>इसमें धातु आयन जुड़े रहते हैं, जैसे-आयन (Fe) 


एंजाइमों का वर्गीकरण :

TUB–अन्तराष्ट्रीय जीव रसायन संग

एन्जाइमो के half dozen— half dozen प्रकार
1, ऑक्सीजेरिटेजेस्ट 
2, ट्रांसफरेजेज 
3, दाइड्रोलेजेज 
4, लायजेज 
5, आइसोमेरेज 
6, लाइंगेजेज



1 ,ऑक्सीडोरिक्वेजेज :- थे ऑक्सीकारक व अपचयन की अभिक्रियाए उत्प्रेरित करते है।
जैसे - साइटोक्रोम ऑक्सीडेज, एल्कोहॉल डिहाइड्रोजिनेज

 2,ट्रांसफरेजेज :- ये क्रियाधार से किसी मूलक या समूह को दूसरे क्रियाधार पर स्थानान्तरण कराते है
जेसे—टॉसटमेनेजेज, टासफास्फेटेज

3,हाइड्रोलेजेज :- ये जल के अणुओं को जोड़ने या हटाने वाली अभिक्रियाओं को उत्प्रेरित करते है।
जैसे—कार्बोहाइड्रेज एमाइलेज

 4,लायजेज :- ये क्रियाधार से बिना जल अपघटण के सहसंयोजक बन्ध तोडकर समुह का निष्कासन करते है।
Ex - एल्डोलेज


 5आइसोमरेजेज :- ये समावयवी अभिक्रियाओं को प्रेरित करते है।
 Ex - फास्फो हेक्सी - बाइसोमेरेज


6,लाइमेजेजे :- ये दो यौगिको को सहसंयोजक बन्ध द्वारा जोड़ने वालि अभिक्रियाओं को अप्रेरित करते है।
Ex—पाइरुवेट कार्बोक्सीलेज


⏺️एन्जाइम की संरचना (Structure of Enzyme)> "सभी एन्जाइम  भी प्रोटीन होते ribonucleic acidं किन्तु सभी प्रोटीन एन्जाइम नहीं होते हैं।" राइबोजाइम नामक एन्जाइम में ribonucleic acid ribonucleic acid ribonucleic acid है, जो ribonucleic acid ribonucleic acid (Splicing) में सहायक होता है। कुछ एन्जाइम, जैसे—पेप्सिन, यूरिएज आदि पूर्णरूप से प्रोटीन द्वारा निर्मित होते हैं। अधिकांश एन्जाइमों में प्रोटीन के अतिरिक्त अप्रोटीन पदार्थ भी पाए जाते हैं। अप्रोटीन पदार्थ प्रोटीन भाग की क्रियाशीलता के लिए आवश्यक होते हैं। इस प्रकार का एन्जाइम होलोएन्जाइम या पूर्णएन्जाइम (Holoenzyme) कहलाता है। होलोएन्जाइम के प्रोटीन से निर्मित भाग एपोएन्जाइम (Apoenzyme) तथा बिना प्रोटीन से निर्मित भाग सहकारक (Cofactor) कहलाता है। सहकारक को तीन भागों में विभाजित किया गया है





⏺️लार में टाईलिन एंजाइम पाया जाता है ⏺️




एंजाइम क्या है
लार में कौन सा एंजाइम पाया जाता है
एंजाइमों
कौन सा एंजाइम वसा प्रक्रिया करता है
कौन सा एंजाइम बसा प्रक्रिया करता है
एंजाइम किसे कहते हैं

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ