भारत के सम्पूर्ण राष्ट्रिय प्रतीक की विस्तार से जानकारी | information about national symbols of india | भारतीय प्रतीक चिन्ह

राष्ट्रीय धव्ज: की संविधान सभा ने राष्ट्रीय ध्वज का प्रारूप 22 जुलाई, 1947 को अपनाया। इसे पिंगली वैंकय्या ने डिजाइन किया था। यह खादी का बना होता है। ध्वज की लम्बाई-चौड़ाई का अनुपात 3:2 है। तिरंगे में समान चौड़ाई की तीन आड़ी (क्षैजित) पट्टियाँ हैं जिसमें रंगों का क्रम इस प्रकार है:- सबसे ऊपर - केसरिया, बीच में- सफेद, सबसे नीचे - हरा रंग। सफेद पट्टी में नीले रंग का चक्र है जिसका प्रारूप सारनाथ में अशोक के सिंह स्तम्भ पर बने चक्र से लिया गया है। इसमें 24 तीलियाँ हैं। भारत के राष्ट्रीय ध्वज में केसरिया रंग शौर्य, साहस और बलिदान का प्रतीक है। सफेद पट्टी शांति और सत्य का प्रतीक है। निचला हरा रंग खुशहाली, समृद्धि, भूमि की उर्वरता और पवित्रता का प्रतीक है। ध्वज का चक्र 'विधि का चक्र' है। इस चक्र का आशय है कि जीवन गतिशील है।


● राजचिह्न : भारत का राजचिह्न सारनाथ स्थित अशोक के सिंह स्तम्भ की अनुकृति है। भारत सरकार ने यह चिह्न 26 जनवरी, 1950 को अपनाया। इस चिह्न के नीचे मुंडकोपनिषद् का सूत्र 'सत्यमेव जयते' देवनागरी लिपि में लिखा हुआ है।

राष्ट्रगीत (National Song):  बकीम चंद्र चटर्जी द्वारा रचित 'वंदे मातरम्' हमारा राष्ट्रगीत है। इसे 1896 में भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था। यह चटर्जी की • कृति आनन्दमठ में संकलित है।

राष्ट्रगान (National Antheme): यह रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा मूल रूप से बांग्ला में रचित और संगीतबद्ध 'जन-गण-मन' का हिन्दी संस्करण है जिसे संविधान सभा ने भारत के राष्ट्रगान के रूप में 24 जनवरी, 1950 को अपनाया था। यह सर्वप्रथम 27 दिसम्बर, 1911 को भारतीय कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था। · राष्ट्रगान के गायन की अवधि लगभग 52 सेकंड है।


 राष्ट्रीय पंचांग (केलैण्डर) : ग्रिगेरियन केलैण्डर के साथ-साथ देश भर के लिए शक संवत् पर आधारित राष्ट्रीय पंचांग जिसका पहला महीना चैत्र है और सामान्य वर्ष 365 दिन का होता है, 22 मार्च, 1957 को अपनाया गया। चैत्र का पहला दिन सामान्यतया 22. मार्च को और अधिवर्ष में 21 मार्च को पड़ता है। शक संवत् 78 ई. में कुषाण शासक कनिष्क ने प्रारम्भ किया था।


राष्ट्रीय पशु : बाघ (पैंथरा टाइग्रिस-लिन्नायस) : बाघ को 1972 में राष्ट्रीय पशु घोषित किया गया। राष्ट्रीय पक्षी: मयूर (पावो क्रिस्टेटस) है। 1963 में घोषित।



● राष्ट्रीय पुष्पः कमल (नेलम्बो न्यूसिफेरा गार्टन) है। खिलता हुआ कमल सृष्टि के सृजन का प्रतीक है।



● राष्ट्रीय वृक्ष: भारत का राष्ट्रीय वृक्ष बरगद (फाइकस बेंघालेंसिस) है। इसे Banyan Tree भी कहते हैं।



● राष्ट्रीय फलः आम (मेनिगिफेरा इंडिका) ।


● भारत का राष्ट्रीय जलचर (National Aquatic Animal) गंगा डॉल्फिनः इसे भारत में 'सूँसू' के नाम से भी जाना जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम 'प्लेटानिस्टा गंगेटिका' है। इसे 18 मई, 2010 को राष्ट्रीय जलीय जीव घोषित किया गया।



● राष्ट्रीय नदीः भारत की राष्ट्रीय नदी गंगा है।

कलैकर केसे बने – ये भी पढ़े ⏩click here


भारतीय प्रतीक चिन्ह
भारतीय प्रतीकों
भारतीय राष्ट्रीय प्रतीक
भारतीय रेलवे संकेत प्रतीकों
भारतीय मुद्रा का प्रतीक चिन्ह
भारतीय रुपए का प्रतीक चिन्ह
भारतीय राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह
भारतीय रुपया प्रतीक
भारतीय धर्म प्रतीक
भारतीय कला प्रतीक
राष्ट्रीय प्रतीक के नाम
हमारा राष्ट्रीय चिन्ह कहाँ से लिया गया है
क्या राष्ट्रिय सन्मान का प्रतिक हैं ?
भारत के 23 राष्ट्रीय प्रतीकों की सूची in marathi
राष्ट्रीय पेड़
भारत का राष्ट्रीय
भारत का राष्ट्रीय खेल
राष्ट्रीय चिन्ह की फोटो
राष्ट्रीय ध्वज
राष्ट्रीय ध्वज का महत्व
राष्ट्रीय ध्वज के बारे में
राष्ट्रीय ध्वज समिति के अध्यक्ष
राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा
राष्ट्रीय ध्वज संहिता
राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर निबंध
राष्ट्रीय ध्वज से संबंधित प्रश्नों
राष्ट्रीय ध्वज का चित्र
राष्ट्रीय ध्वज पर 10 वाक्य
राजचिन्ह
राजचिन्ह भारत
राजचिन्ह in hand
राजचिन्ह इन इंग्लिश
राजचिन्ह meaning english
राजचिन्ह क्या है
राजचिन्ह मीनिंग इन इंग्लिश
सोलंकी राजचिन्ह
मेवाड़ राजचिन्ह
भारताचे राजचिन्ह
राष्ट्रीय पक्षी
राष्ट्रीय पक्षी मोर
राष्ट्रीय पक्षी कौन सा है
राष्ट्रीय पक्षी मोर के बारे में
राष्ट्रीय पक्षी मोर पर 10 लाइन
राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध
राष्ट्रीय पक्षी क्या है
राष्ट्रीय पक्षी दिवस
राष्ट्रीय पक्षी का नाम
राष्ट्रीय पक्षी मोर पर कविता
राष्ट्रीय फल
राष्ट्रीय फल कौन सा है
राष्ट्रीय फल क्या है
राष्ट्रीय फल कौन है
राष्ट्रीय फल आम पर निबंध
राष्ट्रीय फल अनुसंधान केंद्र
राष्ट्रीय फलोत्पादन बोर्ड स्थापना

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ