Ads

कलेक्टर किसे कहते हैं | कलेक्टर के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | what is calecter

आज हम आपको बताएंगे कलेक्टर किसे कहते हैं और उसके बारे में कुछ महत्तवपर्ण बाते 

 जिला कलेक्टर

कलेक्टर पद का सुजन वारोन है स्टिंग्स के द्वारा पहली बार 1772 कलकत्ता जिले के दीवान के रूप में किया गया ।

→ पहली बार कलेक्टर के पद पर 'रॉक रॉल्डन को नियुक्त किया जिसका कार्य राजस्थ वसुली करने का था ।

→ सन् 1773 में इस पर को समाप्त कर दिया था

→ सन्  1781 में  कर्नवालिस ने पुन: यह पद सुचीत किया व राजस्व वसूली के साथ-साथ कानून व्यवस्थाबनाएं  रखने का भी कार्य सौंपा गया ।

1861 पुलिस अधिनियम के तहत जिला प्रशासन को कलेक्टर के अधीन कर दिया। 

* जिला कलेक्टर के कार्य एवं भूमिका 

- जिला कलेक्टर जिला स्तर पर प्रशासनिक प्रमुख होता.

 कार्य :–
→ जिला के प्रशासनिक अधिकारी के रूप

 → जिलाधीश के रूप
 
→ जिला के दण्ड अधिकारी के कप

 → जिला विकास अधिकारी के रूप

जिलाधीश के संदर्भ में कथन : 

→ रेम्जे मेकडानल ने कहा कि - जिलाधीश उस कथन के समान है जिसकी पीठ पर भारत सरकार रूपी हाथी खडा है 

 → न्यायधीश  रजनी कोढरी ने जिलाधीश - संस्थागत करिश्मा कहा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जिलाधीश को प्रशासन का धुरी कहा है । 

→ जिलाधीश लोकतंत्र का सच्चा रक्षक कहलाता है। 

→ जिलाधीश को सरकार-आंख, कान, नाक व भुजा कहा गया है।

* कानुन व्यवस्था बनाए रखने के रूप में कार्य - 

→ कलेक्टर के अधीन जिला जेल अधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक होते हैं।

→ कलेक्टर पुलिस थानों का निरीक्षण करने का 

→  फोजदानी रिपार्ट भेजने का । 

→ जेलों का निरक्षण करने का । 

→ आम्स लाइसेंस जारी करने का ।

→  पेरोल पर छोड़ने का। 

→  पासपोर्ट / वीजा जारी करवाना "

→ अपराधियों का प्रत्यर्पन करने का कार्य करता है। 

→ जीला जिला कलेक्टर कानुन बनाए रखने का कार्य Cr.P.C Act गुण्डा एक्ट अपराधी एक्ट के तहत करता है।

→  कलेक्टर अपने अधीनस्थानों का पदस्थापन, स्थानांतरण व अनुशासन कार्यवाही का अधिकार रखता है।


* जिला कलेक्टर के राजस्व सम्बंधी कार्य - 

→ राजस्व मामलों में जिलाधीश ही अंतिम अधिकारी होता है।

→ भु-राजस्व का निर्धारण, एकत्रण जिलाधीश दी ADM. से लेकर पटवारी तक के पदो के द्वारा जिलाधीरा संचालित करता है। 

→ अन्य करो व एकमात्र जिलाधीरा DTO. RTO. ACTO. CTO उद्योग अधिकारी व अन्य अधिकारीयों के मध्यम से करता है। 

→तकावी ऋण किसान साधी श्रण) जारी करने व उन्हें माफ करने का  कार्य जिलाधीश ही करता है।

*जिलाधीश के विकास सम्बंधी कार्य:–

→जिलाधीश विकास कार्यों में उत्प्रेरक की भाति कार्य करता
 है 

→जिले में बीस सूची कार्यक्रम का अध्यक्ष भी कलेक्टर ही
होता है 

→कलेक्टर लगभग 65 समितियों का अध्यक्ष होता है

अन्य कार्य - -> 

आपतकाल में प्रशासक के रूप में कलेक्टर को भूमिका बहुत  बड जाती है।

→जनगणना करवाने का कार्य कलेक्टर करता है ।

→ रसद की आयुति करवाने व उसके सही वितरण का नियंत्रण देखरेख व कलेक्टर करता है। 

→ जिले के स्कूल जनसम्पर्क अधिकारी के रूपमें कार्य करता है।

 -> जनता मांग, इच्छ व भावनाओं को सरकार तक पहुंचाना

 -> अपने जिले मे शांतिपूर्वक चुनाव आयोजित करवाने का कार्य



tags

डीएम और कलेक्टर में क्या अंतर है
कलेक्टर होण्यासाठी काय करावे
कलेक्टर का फुल फॉर्म
कलेक्टर
कलेक्टर किसे कहते हैं
कलेक्टर को हिंदी में क्या कहते हैं
डिप्टी कलेक्टर के कार्य
कलेक्टर का वेतन
जिला कलेक्टर के कार्य

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ